ALL देश उत्तर प्रदेश पंचायत वार्ड कुछ अलग
यहां का राजा हर साल करता है कुंवारी लड़की से शादी, वजह है ये...
December 24, 2019 • विशेष प्रतिनिधि

स्वाजीलैंड। एक समय था जब पूरी दुनिया में राजशाही चलती थी लेकिन अब बहुत से देश लोकतान्त्रिक तरीके से चुनी गयी सरकार से चलते हैं। एक ऐसा देश, जहां की कुल आबादी करीब 13 लाख है, लेकिन यहां के 63 फीसदी लोग अभी भी गरीबी रेखा से नीचे हैं। यानी कि न उनके पास भरपेट खाना खाने के लिए ही पैसे हैं और न ही पहनने के लिए कपड़े। लेकिन यहां के राजा के पास अरबों की संपत्ति है और ये संपत्ति दिनोंदिन बढ़ती ही जा रही है। यह राजा ऐशो-आराम की जिंदगी जीता है। इस देश का नाम है द किंगडम ऑफ इस्वातिनी जिसे पहले स्वाजीलैंड के नाम से जाना जाता था।
 
साल 2018 में देश की आजादी के 50 साल पूरे होने पर यहां के राजा मस्वाती तृतीय ने इसका नाम बदलने की घोषणा की थी। दरअसल, (इस्वातिनी) स्वाजीलैंड एक अफ्रीकी देश है, जो 17 हजार 360 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है। यह देश कुदरती तौर पर इतना खूबसूरत है कि इसे रहस्यों से भरा देश भी कहा जाता है। यहां के राजा मस्वाती तृतीय को दुनिया के सबसे धनी राजाओं को गिना जाता है। उनके पास 14 अरब से भी ज्यादा की संपत्ति है। वह 19 रॉल्स रॉयस, 20 मर्सिडीज और 12 बीएमडब्ल्यू सहित कई लग्जरी कारों के मालिक हैं। इसके अलावा उनके पास खुद का एक हवाईअड्डा (एयरपोर्ट) और दो निजी जेट विमान भी हैं।
 
इस देश में हर साल अगस्त-सितंबर महीने में महारानी की मां के शाही गांव लुदजिजिनी में 'उम्हलांगा सेरेमनी' फेस्टिवल होता है, जिसमें 10 हजार से ज्यादा कुंआरी लड़कियां और बच्चियां शामिल होती हैं। इस फेस्टिवल में राजा के सामने कुंआरी लड़कियां डांस करती हैं। नेशनल जियोग्राफिक की रिपोर्ट के मुताबिक, इन्हीं लड़कियों में से राजा अपनी नई रानी चुनते हैं। हैरानी की बात तो ये है कि ये लड़कियां बिना कपड़ों के ही राजा और समस्त प्रजा के सामने नृत्य करती हैं।
 
इस्वातिनी में कई अजीबोगरीब नियम-कानून भी हैं। कहते हैं कि यहां शादी से पहले अगर लड़कियां गर्भवती हो गईं तो उनके परिवार पर जुर्माना लगाया जाता है। जुर्माने के तौर पर उन्हें एक गाय देनी होती है। इस्वातिनी के राजा मस्वाती तृतीय ने अप्रैल 1986 में यहां की सत्ता संभाली थी। तब वो महज 18 साल के थे और उस समय वह दुनिया के सबसे युवा शासक थे। 51 वर्षीय राजा मस्वाती तृतीय ने अभी तक 15 शादियां की हैं, जिससे उन्हें 23 बच्चे हैं।
 
हालांकि उनकी सिर्फ पहली दो पत्नियों को ही शाही दर्जा प्राप्त है। आपको जानकर हैरानी होगी कि मस्वाती तृतीय के पिता राजा सोभुआ द्वितीय भी अनेक शादियां करने के लिए जाने जाते थे। उनकी 125 पत्नियां थीं। राजा मस्वाती तृतीय भारत भी आ चुके हैं। साल 2015 में भारत-अफ्रीका शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए वह अपनी सभी 15 पत्नियां, बच्चे और 100 नौकरों के साथ आए थे। उन्हें दिल्ली के एक फाइव स्टार होटल में ठहराया गया था, जिसमें उनके लिए 200 कमरे बुक किए गए थे। रिपोर्ट्स के मुताबिक, जिस कमरे में राजा मस्वाती ठहरे हुए थे, उसका किराया करीब डेढ़ लाख रुपये प्रतिदिन है।