ALL देश उत्तर प्रदेश पंचायत वार्ड कुछ अलग
कृषि क्षेत्र में उपयोग के लिए डिजिटल प्रौद्योगिकियां भारत में तीव्र गति से विकसित हो रही हैं - डॉ एमजे खान
November 7, 2019 • विशेष प्रतिनिधि

नई दिल्ली: कृषि क्षेत्र में उपयोग के लिए डिजिटल प्रौद्योगिकियां भारत में और विश्व स्तर पर तीव्र गति से विकसित हो रही हैं. जिसकी अगुवाई एगटेक स्टार्टअप्स कर रही है. आम मुद्दों और एजेंडा, आपसी सीखने और कार्यों के तालमेल के लिए उन्हें एक मंच पर लाने के लिए भारतीय कृषि एवं खाध्य परिषद (ICFA ) ने आज नई दिल्ली में वर्ल्ड एगटेक कांग्रेस की शुरुआत में 25 सदस्यीय ग्लोबल एगटेक काउंसिल की शुरुआत की. GAC प्रौद्योगिकी कंपनियों और AgTech स्टार्टअप्स के लिए कृषि में परिचालन दक्षता और लाभप्रदता में सुधार करने के लिए कृषि में AI, ICT, रोबोटिक्स, ऑप्टिक्स, बिग डेटा एनालिटिक्स, ब्लॉकचैन और PRA सहित सटीक तकनीकों के अधिक उपयोग को बढ़ावा देने के लिए एक आम मंच पर आना होगा. इस अवसर को यूएस, इज़राइल, सिंगापुर, पैसिफिक और नेदरलैंड एटेक कंपनियों के वैश्विक सीईओ की मौजूदगी में चिह्नित किया गया.

यह जानकारी देते हुए ICFA के चेयरमैन डॉ एमजे खान ने कहा कि हमारा उद्देश्य देश के किसानों कके लिए नई से नई तकनीक उपलब्ध कराना है. ताकि पीएम मोदी के सपने 'किसान की आय दोगुनी करने का' को परवान चढाया जा सके. जिससे पूरे देश का किसान खुशहाल हो. इसके लिए हम भारत में नहीं पूरे विश्व में जाकर भारतीय कृषि को और मजबूती देने के लिए हर समय नई से नई तकनीक पर बात करते है और उसे देश के किसानों को मुहैया कराने का काम करते है. जल्द ही हम किसान को दुगुनी आय का दिया हुआ सपना साकार करेंगे.