ALL देश उत्तर प्रदेश पंचायत वार्ड कुछ अलग
एसटीएफ ने गोरखपुर से पकड़े छह वन्य जीव तस्कर, 500 तोते बरामद
November 15, 2019 • विशेष प्रतिनिधि

लखनऊ। उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स ने अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर वन्य जीवों की तस्करी करने वाले गिरोह के छह सदस्यों को शुक्रवार को गोरखपुर से गिरफ्तार कर उनके कब्जे से विभिन्न प्रजातियों के 500 तोते बरामद किए। एसटीएफ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजीव नारायण ने आज यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर वन्य जीवों की तस्करी करने वाले  गिरोह के छह सदस्यों बहराइच निवासी अब्दुल सईद ,अनीस अहमद, दिलशाद अहमद, इरसाद और गोरखपुर की रहने वाली श्रीमती सलमा और मो0 अजमत उर्फ मुन्ना को आज गोरखपुर में नौसड़ चौराहे से गिरफ्तार किया। उनके कब्जे से विभिन्न प्रजातियों के 500 प्रतिबन्धित तोते बरामद किए गये। इसके अलावा 06 मोबाइल फोन, एक कार और बाइक बरामद की।

उन्होंने बताया कि  वन विभाग और डब्लूसीसीबी ने पुलिस महानिरीक्षक, एसटीएफ को प्रदेश के कई जिलो में व्यापक स्तर पर प्रतिबन्धित पक्षियों की तस्करी के बाद बिक्री करने की सूचना पर कार्रवाई का अनुरोध किया गया था, इसी क्रम में एसटीएफ की विभिन्न टीमों को लगाया गया था। इसी क्रम में एक अक्टूबर को प्रतिबन्धित पंक्षी मुनिया की तस्करी करने वाले गिरोह के एक तस्कर को 110 प्रतिबन्धित पंक्षियों के साथ लखनऊ से गिरफ्तार किया गया था। गिरफ्तार तस्कर ने पूछताछ में बताया कि प्रतिबन्धित पंक्षी गोरखपुर के रास्ते बिहार होते हुए नेपाल भेजे जाते है। मिश्र ने बताया कि इसी क्रम में मुखबिर ने बताया कि आज कुछ तस्कर प्रतिबंन्धित तोतों को बहराइच से गोरखपुर लाने वाले है। इस सूचना पर एसटीएफ और वन विभाग की टीम ने संयुक्त से कार्रवाई करते हुए गोरखपुर के नौसड चौराहे के पास घेराबन्दी कर इन्तजार करने लगे। कुछ देर बाद एक कार आई जिसमें में प्रतिबंन्धित तोते ले जाये जा रहे थे। 

एसटीएफ और वन विभाग की टीम ने कार को रोकने का प्रयास किया गया तो गाड़ी में बैठे व्यक्ति उतर कर भागने लगे, जिन्हें दबोच लिया गया। गिरफ्तार तस्करों के कब्जे से 500 विभिन्न प्रजातियों के प्रतिबंन्धित तोते बरामद किये। गिरफ्तार तस्करों ने पूछताछ पर बताया कि वे प्रतिबंन्धित तोतों को बहराइच एवं उसके आसपास के क्षेत्रों से पकड़ा था और इन्हें  बेचने के लिए गोरखपुर ला रहे थे। इसके अतिरिक्त ये लोग तोतों की कई प्रजातियों, तीतर व बटेरों को भी  बहराइच,खीरी, सीतापुर, शाहजहांपुर आदि जिलों से पकड़ कर तस्करी का कार्य करते हैं। इन पक्षियों की आपूर्ति नेपाल तक की जाती है। इस सिलसिले में मामला दर्ज कर पकड़े गये लोगों को जेल भेज दिया गया है।